fbpx

Music संगीत

राम से अनुराग करिये

राम से अनुराग करिये

राम से अनुराग करिये राम शब्द सर्वोच्च सत्ता का द्योत्तक है, जिसका वर्णन वेदों में मिलता है. संत शिरोमणि रामानंद जी (जिनके शिष्य कबीर, रविदास, धन्ना, पीपा जैसे महात्मा संत हुए), गुरु नानक देव जी; सब ने सिमरन में राम नाम सबसे उत्कृष्ट बताया है. सुनिये इस कालजयी संगीत को और आत्मिक आनंद लीजिये…   …

राम से अनुराग करिये Read More »

free download jo bhaje hari ko sada lyrics in hindi

जो भजे हरी को सदा, सो परम पद पायेगा

जो भजे हरी को सदा, सो परम पद पायेगा राम जो भजे हरी को सदा, सो परम पद पायेगा देह के माला, तिलक और भस्म नहीं कुछ काम के प्रेम भक्ति के बिना, कहीं हाथ के मन आयेगा? दिल के दर्पण को सफा कर, भूल कर अभिमान को खाक हो गुरु के चरण की, तो प्रभु मिल जायेगा छोड़ …

जो भजे हरी को सदा, सो परम पद पायेगा Read More »

तुम ही मैं हूँ, फिर चिन्तन क्या, मैं ही तुम हो, फिर उलझन क्या

तुम ही मैं हूँ, फिर चिन्तन क्या – आलौकिक भजन

तुम ही मैं हूँ, फिर चिन्तन क्या, मैं ही तुम हो, फिर उलझन क्या आदरणीय आलोक सहदेव जी द्वारा श्रीरामशरणम् को समर्पित आलौकिक भजन, तुम ही मैं हूँ, फिर चिन्तन क्या आपजी की सेवा में प्रस्तुत तुम ही मैं हूँ, फिर चिन्तन क्या, मैं ही तुम हो, फिर उलझन क्या तुम ही मैं हूँ, मैं ही तुम …

तुम ही मैं हूँ, फिर चिन्तन क्या – आलौकिक भजन Read More »

झीनी झीनी चदरिया

कबीर जी की अमर रचना… पंडित कुमार गन्धर्व का अमर गायन सुनिए इस अमर रचना का मनोहारी गायन

error: Content is protected !! Please contact us, if you need the free content for your website.