हडजोड के शोध आधारित 8 गुण लाभ फायदे उपयोग

हडजोड के शोध आधारित 9 गुण और उपयोग

आम  मान्यता है कि हडजोड केवल हड्डियों को मजबूती देने के लिए होता है और टूटी हुई हड्डियों को जोड़ने का काम करता है.

यदि आप की भी ऐसी ही मान्यता है तो यह लेख आपको अवश्य पढना चाहिए.

रिसर्च ने इसे आज इसे एक उत्तम टॉनिक, बलवर्धक और रोग निवारक का दर्जा दे दिया है,

और जंगलों का हडजोड अब घरों में उगाया जा रहा है और इसके फ़ूड सप्लीमेंट्स का बाज़ार भी पूरे शबाब पर है.

इसे हड़जोड़ बेल या हड़जोड़ पौधा भी कहा जाता है.

हडजोड के शोध आधारित 8 गुण

हडजोड या ‘अस्थिसंधानक‘ (वानस्पतिक नाम : Cissus quadrangularis) के शोध, शुरू तो हड्डियों को मज़बूत  करने के गुणों से हुए थे, लेकिन फिर इतना कुछ निकल कर सामने आने लगा जिसने हडजोड को एक पसंदीदा रिसर्च टॉपिक बना दिया.

आईये जानते हैं, हडजोड के शोध आधारित 8 गुणों को…

1 हड्डियों को तुरंत जोड़े और लचीला बनाये

हड़जोड़ के उपयोग से अस्थिसंधान (bone fracture healing) आश्चर्यजनक रूप से  जल्दी हो जाता है.

शोध बताते हैं कि हड्डी जुड़ने के समय में 33 से 50 प्रतिशत की कमी आ जाती है.

यह हड्डियों को लचीला भी बनाता है जिस कारण इसका उपयोग एथलीट्स और खिलाडियों को कराया जाता है.(1)

2 ऑस्टियोपोरोसिस में लाभकारी

Menopause के बाद होर्मोंस के बदलाव के कारण Osteoporosis जैसी विसंगतियां पनपने लगती हैं.

हडजोड के प्राकृतिक एनाबोलिक होर्मोंस ऑस्टियोपोरोसिस रोग से बचाव करते हैं और इस रोग को नहीं होने देते. (2)

3 उच्च रक्तचाप में लाभकारी (Hypotensive)

हडजोड में प्राकृतिक Ketosteroids पाए जाते हैं जो उच्च रक्त चाप के नियंत्रण में लाभकारी रहते हैं.

यदि आप उम्र दराज हैं तो हड़जोड़ का उपयोग न केवल हड्डियों के लिये अपितु आपके हाई blood pressure में भी लाभकारी रहेगा.(3)

4 बढ़ी हुई लिपिड्स में लाभकारी (Hypolipidemic)

बढ़ती उम्र का एक अन्य रोग है लिपिड्स (Lipids) का बढ़ना जिसे हम कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) का बढ़ना भी कहते हैं.

हडजोड का नियमित उपयोग कोलेस्ट्रॉल के नियंत्रण में लाभकारी पाया गया है. (4)

हडजोड का व्यंजन

5 आर्थराइटिस (Arthritis) में लाभकारी

हडजोड के उपयोग से आर्थराइटिस के दोनों प्रकार rheumatoid व osteo arthritis में आश्चर्यजनक लाभ मिलता है.

ये इसके सूजन घटाने व एनाबोलिक होर्मोंस के गुणों के कारण होता है. (5)

6 सुडौल तंदुरुस्त देह के लिए लाभकारी

हडजोड का उपयोग बॉडी बिल्डिंग में एक टॉनिक के रूप में किया जाता है.

शरीर की लोच (flexibility) बढाने के लिए इसका उपयोग जिमनास्टिक्स और एथलेटिक्स के खिलाडी विशेष रूप से करते हैं.

इसके उपयोग से मसल्स जल्दी तैयार होते हैं और साथ ही शरीर की प्रोटीन अवशोषण क्षमता भी बढ़ जाती है.

हडजोड के कुछ शोध इसे वजन बढ़ने में सहायक मानते हैं, जबकि कुछ अन्य इसे मोटापा नियंत्रण में लाभकारी  .

ऐसा भी तर्क दिया जाता है कि इसमें Positive Nitrogen balance होने के कारण ये androgenic है जो वजन नियंत्रण करने में सहायक होता है;

यानि न तो मोटापा बढ़ेगा, न ही वज़न कम होगा. देह बिलकुल सुडौल रहेगी (6)

7 डायबिटीज नियंत्रक

कुछ प्रारंभिक शोध cissus को डायबिटीज नियंत्रक भी बताते हैं हालंकि इस पर अभी व्यापक परिणाम आने बाकी हैं. (7)

8 दर्द निवारक

लगभग सभी शोध ये भी निष्कर्ष निकालते हैं कि हडजोड के आर्थराइटिस, ऑस्टियोपोरोसिस निवारक गुणों के कारण इसे इन रोगों से उपजे दर्द का निवारण भी किया जा सकता है.

9 नपुंसकता निवारक

हडजोड में उच्च किस्म के androgenic तत्व पाए जाते हैं.

यह वही तत्व होते हैं जिनके कारण पुरुषों की प्रजनन और यौन क्षमता प्रभावित होती है.

यदि एण्ड्रोजन अधिक होंगे तो टेस्टोस्टेरोन भी अधिक बनेंगे.

ये दोनों ही वीर्य उत्पादन बढ़ाते हैं और कामशक्ति में आई कमी को ठीक कर सकते हैं.

शोधों ने पाया है कि हडजोड एक बेहतरीन वनस्पति है जो वीर्य की कमी को बेहद जल्दी ठीक कर सकती है.

हड़जोड़ खाने का तरीका

हडजोड को उबालकर काढ़ा बनाया जा सकता है.

हड़जोड़ का उपयोग  करने के लिये इसकी सब्जी और बड़ियाँ भी बनायीं जाती है.

कभी भी हडजोड को बिना पकाए नहीं लेना चाहिये न ही हडजोड का चूर्ण सीधा बनाना चाहिये.

हडजोड के सप्लीमेंटस

दुनिया भर में लोकप्रियता के कारण हडजोड के सप्लीमेंट भी मिलते हैं जिन्हें सेहत के प्रति जागरूक लोग उपयोग करते हैं.

वैसे भी हडजोड के व्यंजन रोज़ रोज़ तैयार नहीं किये जा सकते.

न ही ये हर जगह उपलब्ध होता है.

इसलिए इसके suppliments लेना एक सुलभ विकल्प है, जिन्हें हड़जोड़ आयुर्वेदिक मेडिसिन भी कहा जाता है.

हडजोड का सायसस नामक Health Supplement काफी लोकप्रिय है.

एक तरफ इसे खिलाडी, और बॉडीबिल्डर्स अपने muscles और सेहत बनाने के लिए उपयोग करते हैं,

वहीं कई अन्य, इसका उपयोग जोड़ों मांसपेशियों के विकारों और बढती उम्र के कई रोगों से बचने के लिए करते हैं.

जैसे कि ऑस्टियोपोरोसिस, साइटिका (Sciatica), कमर का दर्द, कंधे का खिंचाव (frozen shoulder),

कोहनी की अक्षमता (Tennis elbow), रीढ़ के विकार (spondylosis), arthritis, कोलेस्ट्रॉल, ब्लडप्रेशर, डायबिटीज और जोड़ों की कार्यकुशलता इत्यादि को सामान्य रखने में.

आप इन्हें घर बैठे मंगा कर सीधे उपयोग कर सकते हैं जिससे आप हडजोड को ढूँढकर लाने और व्यंजन तैयार करने से बच जाते हैं.

साईसस (Cissus) का एक पैक 30 से 90 दिन तक चल जाता है,

यानि औषधि के रूप में 30 दिन से 45 दिन और सप्लीमेंट के रूप में 90 दिन.

Cissus उत्पाद की अधिक जानकारी लेने या खरीदने के लिये इस लिंक पर क्लिक कीजिये.

हडजोड (Cissus)- बहुआयामी नायाब टॉनिक

सारशब्द

हडजोड बढ़ती उम्र के रोगों जैसे ऑस्टियोपोरोसिस, आर्थराइटिस, उच्च रक्तचाप, जोड़ों व शरीर के दर्द व कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में लाभकारी है.

इसका नियमित उपयोग हमें महँगी चिकित्सा से बचा सकता है, और लम्बे समय तक जवान रख सकता है.

यह भी पढ़िये

हडजोड़ – बढ़ती उम्र में हड्डियों का रक्षक

हडजोड़ – बढ़ती उम्र में हड्डियों का रक्षक

ऑस्टियोपोरोसिस – जानिए क्या होता है हड्डियाँ कमज़ोर करने वाला रोग

ऑस्टियोपोरोसिस – कहीं आप इसकी गिरफ्त में तो नहीं





Digiprove sealCopyright protected by Digiprove © 2017
शेयर कीजिये

सुझाव दीजिये - कमेंट कीजिये

Posted in Arthritis गठियावात, Diabetes डायबिटीज, Female Cure महिला रोग, Foods & Herbs आहार,जड़ी-बूटियां, Health Facts स्वास्थ्य सार, Health स्वास्थ्य, Home Remedies घरेलू नुस्खे, Nutrition पोषण.