पायो निधि राम नाम

पायो निधि राम नाम – यही है असली धनतेरस का महत्त्व

धनतेरस का गूढ़ आध्यात्मिक महत्त्व है. सांसारिक वस्तुएं वैसे ही नष्ट होती रहती हैं, जैसे कि पेन, कॉपी, जूते, चप्पल, कपड़े और हमारा शरीर. संतजन कहते हैं जब हम अपनी माता या पिता (परमेश्वर) से कुछ नहीं मांगते तो उन्हें फ़िक्र होने लगती है कि कैसे हमारी संतान हमसे कुछ भी नहीं मांग रही. वे […]

पूरा पढ़िये
जीवन जीने के दस सूत्र - खुशवंत सिंह (Khushwant Singh)

बेहतर जीवन जीने के दस सूत्र – खुशवंत सिंह (Khushwant Singh)

खुशवंत सिंह ( Khushwant Singh) जी ((born Khushal Singh, 15 August 1915 – 20 March 2014) ने 98 साल की खुशहाल जीवन यात्रा की. पूरा भारत उनको जानता है जो दो बार पद्म विभूषण से नवाज़े गए. 1974 में और पुन:  2007 में. Operation Blue Star के कारण  1974 का पद्म विभूषण उन्होंने 1984 में वापिस कर […]

पूरा पढ़िये
जीवन है संग्राम

मन चंचल, चल राम शरण में – यही है आनन्द की सही कुन्जी

    मनसा वाचा, कर्मणा, मैं हूँ मेरे राम, अर्पित तेरी शरण में, सहित कर्म शुभ काम ॥ मन चंचल, चल राम शरण में राम ही तेरा जीवन साथी, नित्य हितैषी, सब दिन साखी, दो दिन के हैं, ये जग वाले, हरि अंग संग है, जन्म मरण में ॥१॥   जग में तूने प्यार बढ़ाया, […]

पूरा पढ़िये
जगत का बोध

जगत का बोध भी करना जानिये – आत्मिक लाभ ज़रूर मिलेगा

एक सीधा सादा वैरागी साधू जिसे जगत का बोध नहीं था; विचरण करते करते थका, प्यासा हो गया था. किसी नदी के पनघट पर पहुंचा, पानी पिया और सुस्ताने का मन हुआ. पत्थर पर सिर रखकर सो गया….!!! पनघट पर पनिहारिन आती-जाती रहती हैं !!! वे आईं और साधू को सोते देखा. एक ने कहा- […]

पूरा पढ़िये
भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला, कौसल्या हितकारी॥

रामनवमी पर्व की बधाई, मंगल कामनाएं!! आनंद लीजिये गोस्वामी तुलसीकृत रामचरित मानस की रामावतरण चौपाईयों का, जिन्हें लगभग सभी शीर्ष गायकों ने स्वरबद्ध किया है. यह गायन स्वर्गीय जगजीत सिंह जी की प्रस्तुति है.     भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला, कौसल्या हितकारी। हरषित महतारी, मुनि मन हारी, अद्भुत रूप बिचारी॥ लोचन अभिरामा, तनु घनस्यामा, निज […]

पूरा पढ़िये
मौन की महिमा

मौन की महिमा – रोज़ रखिये और पाईये आश्चर्यजनक लाभ

मौन से वह सब घटित हो सकता है जो बोलने से नहीं होता। यही है मौन की महिमा. जब तक मन है तब तक सांसारिक उपद्रव हैं मन गया कि संसार भी गया; और संन्यास शुरू। यहाँ सन्यास का का अर्थ है फ़िज़ूल के विचारों और कर्मों से जुड़े रहने का भाव. योग कहता है… ऊर्जा और सत्य का द्वार है मौन […]

पूरा पढ़िये
दीपावली महापर्व deepavali diwali ka mahatv kyon karn

दीपावली महापर्व – महता, महत्व एवं व्यापकता

दीवाली भारत का इकलौता ऐसा ऐसा पर्व है जो सबसे अधिक देशों में मनाया जाता है. कई धर्म सम्प्रदायों द्वारा मनाया जाने वाला त्यौहार भी केवल दीपावली ही है. पौराणिक महत्व इस पर्व के पीछे प्रभु राम के अयोध्या आगमन के अतिरिक्त और भी कई पौराणिक और ऐतिहासिक कारण हैं जो इस पर्व को विशेष […]

पूरा पढ़िये
जीवन है अनमोल जीवन सार जीवन का अर्थ जीवन उपहार है

जीवन है अनमोल – जानिये, कितने भाग्यशाली हैं आप

जीवन के कई अर्थ लगाये जा सकते हैं. लेकिन सभी अर्थ और भावार्थ एक ही लक्ष्य को इंगित करते हैं. कि ‘जीवन है अनमोल’ बुरा कहने से बचें… सोचिये उनके बारे में, जो बोल भी नहीं सकते. हमें वाणी मिली है…. कितनी बड़ी ईश्वरीय देन है. जब मुख-जिव्हा स्वादिष्ट व्यंजन ही पसंद करते हैं. तो […]

पूरा पढ़िये
जीवन है संग्राम

जीवन है संग्राम – जगत में कहीं नहीं विश्राम

जीवन है संग्राम – संसार में यदि कहीं कोई जगह या स्थिति है जहाँ पूर्ण आनंद और शांति मिले… तो वह है, परमेश्वर का सानिध्य ध्यान, सिमरन, जाप, कीर्तन-भजन; सानिध्य के साधन हैं. यह गायन इसी आशय की जीवंत प्रस्तुति है. जीवन है संग्राम सुनिए और आनंद लीजिये अलोक सहदेव जी के इस मधुर गायन […]

पूरा पढ़िये
दुनियां में सिकन्दर कोई नहीं duniya-mein-sikandar-koi-nahin

दुनियां में सिकन्दर कोई नहीं, वक्त ही सिकंदर होता है

सिकन्दर उस जल की तलाश में था, जिसे पीने से मानव अमर हो जाते हैं.! काफी दिनों तक देश दुनियाँ में भटकने के पश्चात आखिरकार सिकन्दर ने वह जगह पा ही ली, जहाँ उसे अमृत की प्राप्ति होती ! वह उस गुफा में प्रवेश कर गया, जहाँ अमृत का झरना था, वह आनन्दित हो गया […]

पूरा पढ़िये
मौन भाव - अदभुत गायन, एकान्त में सुनिये

मौन भाव – अदभुत गायन, एकान्त में सुनने योग्य

संतजन हमेशा ही मौन भाव की महता समझाते रहे है. मौन भाव मौन का अभ्यास मानसिक रोगों जैसे चिंता, व्यग्रता, तनाव, संताप, अनिद्रा, ब्लडप्रेशर इत्यादि से रोगमुक्ति की अनुपम औषधि भी है. अपने आप को कभी भी, कमरे में बंद कर या किसी एकांत में, इस अनुपम प्रस्तुति का आनंद उठाईये. सुनिए, मौन भाव के […]

पूरा पढ़िये