IBS संग्रहणी और आँतों की सूजन (IBD) में फर्क और समानतायें

Posted By: Rajeev Sharma | Last Updated:November 05, 2017
IBS संग्रहणी और आँतों की सूजन (IBD) ibs aur ibd mein fark symptom lakshan kaise pata chale ki ibs rog hai hindi

पेट के सभी रोगों में  IBS संग्रहणी और आँतों की सूजन (IBD) दो मुख्य रोग माने जाते हैं.

पित्त एसिडिटी तीसरा बड़ा रोग है.

पिछले 30-40 वर्षों में यह तीनों ही रोग काफी व्यापक हो गए हैं और शोध यह जानने में लगे हैं कि किस कारण यह सब पनप रहे हैं. (1)

पित्त एसिडिटी की समस्या को छोड़ IBS संग्रहणी और आँतों की सूजन (IBD) दो ऐसे रोग हैं जिन्हें पहचानने में काफी असमंजस हो जाती है.

इस लेख में जानते हैं क्या हैं IBS संग्रहणी और आँतों की सूजन (IBD) में फर्क भेद और समानतायें.

IBS संग्रहणी और आँतों की सूजन (IBD) – क्या हैं भेद, फर्क

1 IBS संग्रहणी में आँतों में सूजन नहीं होती जबकि IBD रोग में सूजन हमेशा बनी रहती है. (2)

2 IBD अथवा आँतों की सूजन का पता सामान्य जांच के तरीकों (कोलोनोस्कोपी, एंडोस्कोपी) से मिल जाता है

जबकि IBS संग्रहणी एक क्रियात्मक विकार (functional disorder) जिसका जांच के सामान्य तरीकों से पता नहीं चलता.

3 आँतों की सूजन (IBD) का प्रकोप कम पाया जाता है जबकि IBS संग्रहणी का अधिक.

4 IBS संग्रहणी से जनसख्या का व्यापक तबका ग्रसित रहता है

जबकि आँतों की सूजन (IBD) का विस्तार शहरी आबादी में ही अधिक देखा जाता है.

5 आँतों की सूजन (IBD) में मल के साथ रक्त का आना एक मुख्य समस्या बन जाती है जबकि IBS संग्रहणी में ऐसा नहीं होता.(3)

IBS संग्रहणी और आँतों की सूजन (IBD) – समानतायें

आँतों की सूजन (IBD) और IBS संग्रहणी के कई लक्षण मिलते जुलते होते हैं

जिस कारण इन्हें सही से समझने में गलती लग जाती है. (4, 5, 6)

1 दोनों रोगों में पेट दर्द, मरोड़ पड़ना, पेट का सही से साफ़ न होना,

कब्ज़ या अतिसार का बने रहना या फिर कब्ज़ अतिसार का बारी बारी से होना जैसे लक्षण पाए जाते हैं. (7)

2 पेट के लाभकारी बैक्टीरिया के गणमान में कमी और असंतुलन के कारण एकसाथ दोनों रोग; (8)

या दोनों में से कोई भी एक रोग पनप सकता है.

3 दोनों रोग 50 वर्षों से पहले की आयु में ही अधिक पाए जाते हैं.

यदि आप की आयु 50 पार कर गयी है तो इन रोगों के होने का खतरा काफी कम हो जाता है.

4 सामान्य सूजन जो लम्बे समय तक बनी रहे, से भी दोनों रोग पैदा  हो सकते हैं.

5 दोनों रोगों का शरीर के अन्य अंगों जैसे त्वचा, जोड़ों और हड्डियों की संरचना पर प्रभाव पड़ सकता है.

6 कमज़ोरी, आलस्य, मानसिक व्यग्रता, वज़न कम होना,

रतिशक्ति में कमी जैसे विकार दोनों रोगों के कारण हो सकते हैं.

7 दोनों रोग बैक्टीरिया के संक्रमण से पनप सकते हैं.

दोनों रोगों पर विस्तृत जानकारी

पेट के यह दोनों रोग यद्यपि कई तरह से एक जैसे प्रतीत होते हैं, लेकिन दोनों ही अलग अलग रोग हैं.

IBS संग्रहणी पर विस्तृत जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक कर विशेष लेख पढ़िए.

और

आँतों की सूजन (IBD) पर अधिक जानकारी इस लेख में देखी जा सकती है.

क्या दोनों रोग इकट्ठे पनप सकते हैं

दोनों रोगों का इकट्ठे पनपना बिलकुल संभव है.

क्योकि दोनों रोगों के कुछ प्रारंभिक संकेत एक सामान होते हैं जबकि कुछेक में असमानता रहती है.

एक अनुमान के मुताबिक लगभग 20% लोगों में IBS संग्रहणी के साथ साथ आँतों की सूजन (IBD) के लक्षण भी मिलते हैं.


पाइये हर प्रमाणित लेख सीधे अपनी ईमेल में, और फुर्सत में पढ़िये


निजी स्वास्थ्य सलाह लेने के लिए इस लिंक पर विवरण दीजिये


हमारे फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिये यहाँ क्लिक कीजिये


 

Digiprove sealCopyright protected by Digiprove © 2017
शेयर कीजिये

सुझाव दीजिये - कमेंट कीजिये

Posted in IBS संग्रहणी, Stomach disorders पेट के रोग.