fbpx
बैंगन bengan baingan ke fayde labh gun upyog in hindi

बैंगन नहीं है बेगुण – बैंगन में हैं कई गुण

बैंगन के बारे में पिछले कुछ सालों से एक भ्रान्ति सबके मन में बैठ गयी है कि इसमें कोई गुण नहीं होते.

जबकि आयुर्वेद और वैज्ञानिक शोध दोनों ही, बैंगन को एक बेहतरीन आहार मानते हैं.

आईये, इस भ्रामक मनघडंत प्रचार की सत्यता जानते हैं. जानिए कैसे बैंगन के नुकसान कुछ भी नहीं हैं.

यह एक बेहद पौष्टिक, सुपाच्य और हल्की सब्ज़ी है जिसका उपयोग हमें कई रोगों से बचा सकता है…

परिचय

यह एक बहुऋतू पौधा है जो दो या अधिक वर्ष तक फलित होता रहता है.

इसका उद्गम स्थल भारत माना जाता है. सन्दर्भ मिलते हैं कि भारतीय सभ्यता इसका उपयोग 4000 वर्षों से भी अधिक से करती आई है.

पिछले लगभग 1500 सालों में यह भारत से दुनिया के हर कोने में पहुँचाया गया.

बैंगन के गुण बैंगन कब नहीं खाना चाहिए बैंगन के फायदे बैंगन खाने के लाभ सफेद बैंगन बैंगन के औषधीय गुण बैंगन रेसिपी बैंगन का उपयोग गोभी के फायदे बैंगन खाने के नुकसान प्रेगनेंसी में कटहल खाना चाहिए बैंगन के फायदे और नुकसान बैंगन फायदे बैंगन की खेती कैसे करे बैंगन in english दही बैंगन रेसिपी इन हिंदी बैंगन मसाला रेसिपी भरवा बैंगन की रेसिपी भरवां बैंगन रेसिपी इन हिंदी बैंगन की सब्जी रेसिपी बैंगन फ्राई बैंगन की कलौंजी भरवां बैंगन बनाने की विधि बैंगन के नुकसान

आज यह संसार के लगभग हर हिस्से में पैदा किया जाता है, केवल बर्फीले इलाकों और मरुस्थलों को छोड़ कर.

बैंगन को एशिया की English में Brinjal, अमेरिकन देशों में eggplant, इंग्लैंड और कुछ यूरोपीय देशों में aubergine के नाम से जाना जाता है.

यूरोप के कुछ हिस्सों, इटली में इसे पहले mala insane (कहा जाता था जिसका मतलब है “पागल सेव (crazy apple)”.

इसका botanical name है Solanum melongena L. और ये उसी कुल का पौधा है जिस कुल से टमाटर, शिमला मिर्च इत्यादि सम्बन्ध रखते हैं.

बैंगन के गुण पोषण तथ्य

इसमें लगभग हर मुख्य विटामिन और मिनरल्स की संतुलित मात्रा का समावेश रहता है.

बैंगन के फायदे में फाइबर की प्रचुरता और विशेष  प्रकार के रासायनिक योग ही इसे एक विशिष्ट आहार का दर्जा दिलाते हैं.

विस्तृत पोषण तथ्य इस लिंक पर देखिये.

सफ़ेद बैंगन

बैंगन में anthocyanins और anthocyanin नामक polyphenolics एवं chlorogenic acid, scopoletin जैसे अति लाभकारी तत्व पाए जाते हैं.

शोधों ने इन्हें कई रोगों की रोकथाम में प्रभावकारी पाया है.

इसे बैंगनी रंग देने वाला अवयव nasunin भी एक उत्तम दर्जे का एंटीऑक्सीडेंट होता है.

बैंगन खाने के लाभ – शोध आधारित तथ्य

वैसे तो आयुर्वेद में इसके गुणों की विस्तृत व्याख्या मिलती है,

लेकिन इस लेख की मंशा आपको केवल उन तथ्यों से अवगत करना है जो ये सिद्ध करते हैं कि यह एक पूर्ण पौष्टिक आहार है.

आईये जानते हैं, क्या हैं बैंगन के शोध आधारित गुण लाभ और फायदे:

मोटापा घटाने में नायाब

बैंगन में जितने कम कार्बोहाइड्रेट्स मिलते हैं उतना ही अधिक फाइबर. जिसका सीधा सीधा मतलब है कि वज़न घटाने के लिए यह एक उत्तम आहार है.

motapa ghatane ke upay tareeke

जो आपको भरपेट का एहसास देते हुए भी आपका वज़न नहीं बढ़ने देगा. (1).

ह्रदय के लिए हितकारी

बैंगन में कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण करने के गुण रहते हैं साथ ही ये धमनियों में calcification के जमाव को रोकने में सहायक तत्वों से भरपूर पाया गया है.

नतीजतन, इसका उपयोग ह्रदय के स्वास्थ्य के लिए लाभकारी ही है. (2)

कैंसर रोधी

एक शोध ने इसमें antimutagens भी पाए हैं जो कैंसर रोग को पनपने से रोकते हैं.

Mutagens के कारण ही हमारी कुछ कोशिकाएं विद्रोह कर बैठती हैं और स्वस्थ कोशिकाओं के स्वरुप को बदल कर अपना विस्तार करने लगती हैं, जिसे हम कैंसर कहते हैं.

बैंगन baingan ke fayde labh gun upyog

Antimutagens इस प्रकार की कैंसर कोशिकाओं को बनने या पनपने  नहीं देते. (3)

मस्तिष्क स्वास्थ्य में लाभकारी

उम्र बढ़ने के साथ साथ हमारी मस्तिष्क क्रियाओं में भी थकान आने लगती है.

यादाश्त, एकाग्रता की कमी, असमंजसता का भाव; सभी इस थकान के कारण ही परिणित होते हैं.

यह हमारी मस्तिष्क क्रियाओं को दुरुस्त रखने में सहायक है क्योंकि इसमें उपलब्ध nasunin को शोधों नें मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए लाभकारी पाया है. (4)

डायबिटीज नियंत्रक

आहार विशेषज्ञ डायबिटीज कण्ट्रोल करने के लिए आहारों में कम कार्बोहाइड्रेट्स और अधिक फाइबर पर बल देते हैं,

ताकि भोजन के बाद एकदम शुगर का बढाव न हो, और अतिरिक्त इन्सुलिन के लिए दबाव न पड़े.

बैंगन bengan baingan ke fayde labh gun upyog in hindi baingan in english baingan bharta recipe
बैंगन रेसिपी – इस का उपयोग ग्रिल करके भी किया जाता है

इस आधार से यह एक सटीक आहार है, शुगर को अचानक बढ़ने से रोकता है.

शोध यह मानते हैं कि इसके डायबिटीज उपयोगी गुण इसके अन्य विशेष तत्वों के कारण भी हो सकते हैं (5).

बैंगन के औषधीय गुण : खुशमिजाज रखने में सहायक

में  इस में मिलने वाले सक्रिय तत्व scopoletin के कई गुणों में से एक इसकी डिप्रेशन निवारक क्षमता होती है.

यह तत्व मस्तिष्क के हॉर्मोन serotonin के स्तरों में सुधार लाता है जिस कारण भय, चिंता और तनाव से मुक्ति मिलती है.

इसमें मिलने वाले B विटामिन्स की श्रेणी इस गतिविधि को और बल प्रदान कर देती है. (6)

अन्य लाभकारी गुण

इस में बहुत सारे अन्य  लाभ भी पाए जाते हैं जिनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता, त्वचा रोग निवारण, सही रक्तचाप, ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव आदि मुख्य हैं.

यह सब लाभ इसमें उपलब्ध पोषक तत्वों के कारण मिलते हैं जो बिलकुल सही मात्रा में पाए जाते हैं; न ज्यादा न कम. (7, 8, 9, 10, 11)

बैंगन विशेष

पिछले समय की नानी, दादीयाँ बीमार होने पर रोगी को इस का भरता बना कर खिलाया करती थीं, जिसमें सिर्फ हल्दी, नमक और काली मिर्च मिलाई जाती थी.

कुछ तो कारण रहा होगा उस परम्परा का जो अब लगभग विलुप्त हो गई है.

दुनिया भर में आलू प्याज़ के बाद बैंगन ही सबसे अधिक उपयोग की जाने वाली सब्जी है.

चीन इसका का सबसे बड़ा उत्पादक देश है जबकि भारत दूसरा.

अमेरिका के New Jersey को बैंगन की राजधानी कहा जाता है.(13)

सौभाग्य कारक भी है बैंगन

जापान में लोक मान्यता है कि यदि कोई

माउंट फुजि (जापान के एक पर्वत का नाम).

बाज़ (पक्षी) और

बैंगन;

इन तीनों के दर्शन नये साल के पहले दिन कर ले, तो वह पूरे वर्ष सौभाग्यशाली रहता है.

सारशब्द – बैंगन के फायदे और नुकसान

भाटा एक फाइबर तृप्त, संतुलिक पोषक तत्वों युक्त, सब्जी है जिसके उपयोग से कई स्वास्थ्य लाभ लिए जा सकते हैं.

यह मोटापा घटाने, कैंसर से बचाने और डायबिटीज नियंत्रण के लिए बेहतरीन आहार है.

साथ ही इसके दूरगामी फायदे भी हैं जो हमें उम्र के बढाव के रोगों से बचा सकते हैं.

क्या अब भी आप कहेंगे कि बैंगन खाने के नुकसान होते हैं?


 


शेयर कीजिये

आपके सुझाव और कमेंट दीजिये

error: Content is protected !! Please contact us, if you need the free content for your website.