Home » IBS कोर्स सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर

IBS कोर्स सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर

आप जानना चाहेंगे कि IBS कोर्स की औषधियाँ कैसे काम करती है,

कितनी जल्दी लाभ मिलता है,

क्या रोग दोबारा तो नहीं होगा वगैरह वगैरह.

वाजिब है, आपके मन में कई प्रश्न हो सकते हैं.

हमारे अधिकतर मान्य पुराने ग्राहक जगह जगह अपना इलाज करवा कर हताश हो चुके होते थे.

स्वाभाविक है जब ऐसा होता है तो किसी भी इलाज को लेने से पहले मन में कई शंकाएं और प्रश्न भी उठते हैं.

पाईये पूरा शंका समाधान !

यहाँ उन सभी प्रश्नों के उत्तर दिए गए हैं जो सामान्यत: आप जानना चाहते हैं.

IBS संग्रहणी की औषधियां

IBS उपचार के लिए चार औषधियों का कोर्स रहता है. ये औषधीयां हैं:

1 RemIBS

2 PBF

3 GutCLR

4 Anabol N

साथ ही आपको निशुल्क लिवर टॉनिक बनाने की सामग्री भी भेजी जाती है;

क्योंकि इस रोग में लिवर का सही होना अत्यंत आवश्यक होता है.

1 Rem-IBS (रेम- आय बी एस)

यह हानिकारक बैक्टीरिया का सफाया करने, आँतों की सूजन कम करने,

और रोग के लक्षणों जैसे आंव आना, मरोड़ पड़ना, मल में चिकनाई चिपचिपाहट, अतिसार इत्यादि के निवारण का काम करती है.

इसके उपयोग से सामान्य गैस, अफारा में भी राहत मिलती है.

हालांकि, तीव्र पित्त विकारों जैसे कि एसिडिटी और एंट्रल गैसट्रीटिस के लिये अलग से एसिरेम (Acirem) के उपयोग करने का भी विधान है.

2 PBF (पी बी एफ)

IBS रोग का सबसे बड़े कारण एंटीबायोटिक्स का अधिक उपयोग, खानपान में विषतत्वों की उपस्थिति ही होते हैं.

जो पेट के लाभकारी बैक्टीरिया का का भी सफाया कर देते हैं, या फिर उनके संतुलन को बिगाड़ देते हैं.

PBF एक प्री-बायोटिक फाइबर सप्लीमेंट है

जिसका कार्य लाभकारी बैक्टीरिया को बढ़ाना, आँतों को तरावट देना और उनकी मंद पड़ी गतिशीलता को नियमित करना है.

3 Gut-CLR (गट-सी एल आर)

हर चिकित्सा पद्ध्ति में पेट की सफाई को पूर्ण स्वास्थ्य के लिये ज़रूरी बताया जाता है.

आयुर्वेद में भी, पंचकर्म जैसे विधान बनाये गये हैं.

पंचकर्म के लिये एक सप्ताह या उससे भी अधिक का समय लगता है, जो आजकल की व्यस्त जीवनशैली में एक मुश्किल सम्भावना हो सकती है.

GutCLR (गट सी एल आर) एक ऐसा विकल्प है जिसे लेकर आप अपने पेट की सफाई घर पर ही कर सकते हैं.

यह एक बिलकुल सौम्य योग है जो पेट की सफाई का कार्य कर भारीपन का निवारण करने में सहायक जाना जाता है.

कब्ज़ वाली IBS (IBS-C) में इसे सप्ताह में दो बार देने का विधान है जबकि सामान्य IBS में हर सप्ताह या फिर माह में एक या दो बार.

अतिसार संग्रहणी अथवा IBS-D में भी इसका उपयोग किया जाता है, लेकिन तब, जब अतिसार की समस्या का पूरा समाधान हो जाये.

4 Anabol (एनाबोल)

यह एक औषधि भी है और टॉनिक भी.

इसका काम रोग के कारण आई आँतों की सूजन को दुरुस्त करना, घावों का उपचार और metabolism को ठीक करना होता है.

इसके उपयोग से थकान, अकड़न (Stiffness), सुस्ती जैसे प्रभावों में भी लाभ मिलता है

और साथ ही IBS के कारण होने वाले रोगों जैसे यूरिक एसिड, गाउट, कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज इत्यादि में भी लाभ मिलता है.

औषधियां कितने दिन तक चलती हैं

प्रत्येक औषधि की मात्रा 60 खुराक की रहती है.

औषधियां रोग की किस्म और उग्रता के अनुसार लेनी होती हैं.

शुरुआती समय के लिये PBF और Anabol-N दिन में दो बार लेनी होती हैं. जिस हिसाब से ये एक महीने के लिये पर्याप्त रहती हैं.

बाद में ये दिन में केवल एक ही बार लेनी होती हैं.

तब इनके पैक 60 दिन तक पर्याप्त रहते हैं.

लाभ मिलने के अनुसार अधिकतर मामलों में Anabol-N का उपयोग एक महीने बाद बंद भी कर दिया जाता है।

Gut-CLR का उपयोग शुरुआत के तीन या पांच दिन और बाद में हर सप्ताह या माह में एक दो बार ही होता है

इस कारण Gut-CLR का एक पैक 5 से 8 महीने तक भी चल जाता है.

इसी प्रकार उग्र लक्षणों में Rem-IBS दिन में तीन बार लेनी होती है जबकि बाद में केवल एक या दो बार ही लेनी होती है.

यदि इसका उपयोग तीन बार किया जा रहा हो तो यह 20 दिन चलेगी

जबकि दो खुराक प्रतिदिन में 30 दिन और एक खुराक प्रतिदिन में 60 दिन.

आरम्भ की इलाज की अवधि में Rem-IBS और Gut-CLR अलग अलग समय या दिनों में ही दी जाती हैं इकट्ठे कभी नहीं.

अर्थात जिन दिनों में Rem-IBS का उपयोग होता है उन दिनों में Gut-CLR का उपयोग नहीं किया जाता.

लेकिन बाद में Rem-IBS लेते हुए भी Gut-CLR का उपयोग किया जाता है.

क्या हर बार पूरा IBS कोर्स ही आर्डर करना होता है? 

नहीं.

आपको सब उत्पाद आर्डर करने की आवश्यकता नहीं है.

केवल वही उत्पाद आर्डर कीजिये जो चाहिये हों.

कितने दिनों में लाभ दिखना आरम्भ होगा

लाभ पहले 8-10 दिन में ही अनुभव होने लग जाता है.

बहुत सारे ग्राहक 15-20 दिन के भीतर ही बताते हैं कि उनके कष्ट ठीक हो गए हैं.

लेकिन इसका यह मतलब कदापि नहीं कि रोग भी पूरा ठीक हो गया हो.

उन्हें सलाह दी जाती है कि खानपान में बताये गए घरेलू उपायों, नियमों और नुस्खों द्वारा अपने आपको पूरा सेहतमंद रखें.

हम चाहते हैं कि आप सुझाये गये खानपान और दिनचर्या नियमों में बदलाव कर हमेशा के लिये रोगमुक्त बनें और औषधियों का सेवन तब तक ही करें जब तक ज़रूरी हो.

कितने समय तक औषधियां लेनी पड़ेंगी

यह रोग की उग्रता और अवधि पर निर्भर करता है.

अधिकतर रोगियों को एक माह के भीतर ही लाभ मिल जाता है.

जबकि कुछ अन्य के लिए 2 – 3 महीने या अधिक समय भी लग सकता है.

कुछ भी हो, 10-15 दिन में लाभ का अनुभव हो ही जाता है.

क्या रोग जड़ से खत्म हो जायेगा

सामान्य खांसी, जुकाम और बुखार से लेकर कोई भी रोग दोबारा हो सकता है.

लेकिन यदि उचित बचाव करेंगे तो किसी भी रोग के दोबारा होने से बचा जा सकता है.

IBS संग्रहणी पर भी यही नियम लागू होता है.

आपको केवल यह जानने की आवश्यकता है कि कैसे खानपान और अन्य दिनचर्या में क्या बदलाव करने चाहिए,

जो आपको हमेशा रोगमुक्त रख सकें.

यह सुझाव आपको क्रमवार बताये जाते हैं ताकि आप उन्हें अपना कर लाभ का स्वयं अवलोकन कर सकें.

जब यह सारा ज्ञान आपको उपलब्ध होगा तो निश्चित ही आप रोग पर विजय पा लेंगे और दोबारा नहीं पनपने देंगे.

हमारे बहुत सारे वर्षों पुराने ग्राहक बिलकुल रोगमुक्त हैं,

यही नहीं, उन्हीं के कारण हमसे कई नए ग्राहक औषधियां/उत्पाद मंगा कर अपना इलाज करते हैं.

वास्तव में, हमारे कुल कारोबार का बहुत बड़ा हिस्सा हमारे पुराने ग्राहकों द्वारा समर्थित नये ग्राहकों से ही आता है.

IBS रोग में खानपान के क्या नियम हैं

औषधियां भेजने के साथ ही आपको खानपान सम्बन्धी सुझाव, नियम और बदलाव भी उपलब्ध कराये जाते हैं.

कुछ बदलाव बाद में भी सिलसिलेवार कराये जाते हैं.

ताकि आप हर सुझाये बदलाव का अवलोकन सवयं करें और उसे जीवन का अभिन्न अंग बना लें.

यह सुझाव बेहद आसान होते हैं जिन्हें आप आसानी से अपना सकते हैं.

क्या औषधियों के कोई दुष्परिणाम होते हैं

सभी औषधियां वानस्पतिक हैं इसलिए इनके कोई भी दुष्परिणाम नहीं होते.

यह अंतर्राष्ट्रीय प्रमाण संस्था ISO द्वारा और भारत के उच्च निर्माण विधियों यानि GMP द्वारा प्रमाणित हैं.

औषधियां कहाँ से मिलती हैं

औषधियां हमारे द्वारा सीधे आपके पास भेजी जाती हैं.

यह बाज़ार में उपलब्ध नहीं हैं.

इनकी गुणवत्ता और इनके डुप्लीकेट होने से बचाने के लिए ऐसा किया गया है.

कैसे भेजी जाती है औषधियां

सभी औषधियां कूरियर या Speed Post द्वारा सीधे आपके पास भेजी जाती हैं.

जहाँ कूरियर सुविधा उपलब्ध है वहां कूरियर द्वारा; जबकि अन्य सभी जगह स्पीडपोस्ट द्वारा.

विदेशों की सप्लाई DHL या Federal Express से की जाती है.

आर्डर करने के विकल्प (Ordering)

  1. आप उत्पाद ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं। जिसके लिये भुगतान डेबिट/क्रेडिट कार्ड, नेटबैंकिंग, UPI या कई अन्य प्रकार के e-wallets से किया जा सकता है.
  1. उत्पाद सीधे भी मंगा सकते हैं; जिसके लिए कृपया अपना पूरा पता पिनकोड सहित फोन नंबर  7889150990 पर Telegram  App से भेजिए, और हमारे इस बैंक अकाउंट में राशि ट्रान्सफर कर दीजिये.

Account Name: Ayurved Central

Account number: 917020065330251

Account type: Current

IFSC: UTIB0003509

Bank name and address: Axis Bank, VIP Road, Zirakpur, Chandigarh 140603

You can also pay through Google Pay
Please use phone number 7889150990
and verify it.
Business name will get verified as Ayurved Central.

राशि ट्रान्सफर होने पर सामग्री आपको भेज दी जाती है।

  1. यदि आप Cash on Delivery चाहते हैं, तो भी ऑनलाइन आर्डर कीजिये और Cash on Delivery विकल्प चुनिये.

या

अपना पूरा पता पिनकोड सहित 7889150990 पर Telegram  app से भेजिए.

कृपया नोट कीजिये, COD के लिये 135 रूपए की अतिरिक्त राशि देय होती है.

COD सुविधा लगभग 16 800 पिन कोड्स पर उपलब्ध है.

यदि आपके पिन कोड पर COD सुविधा उपलब्ध होगी तो आपको COD शिपमेंट भेज दी जाती है.

अन्यथा हम आपको सूचित कर देते हैं, और आप भुगतान के लिये विकल्प 1 या 2 चुन सकते हैं.

डिलीवरी में कितना समय लगता है

आपका आर्डर मिलने के एक दो दिन के भीतर औषधियां आपको भेज दी जाती है.

दूरी के अनुसार इन्हें आप तक पहुँचने में दो से पांच दिन तक का समय लग सकता है.

औषधियां लेने की विधि

औषधियां लेने की विधि भेजने के समय उपलब्ध करवाई जाती है.

आपसे अपेक्षा है किऔषधियां मिलने पर एक बार संपर्क ज़रूर करें ताकि विधि विधान को आप ठीक प्रकार से समझ लें,

और इलाज आपकी वर्तमान स्थिति के मद्देनज़र आरम्भ हो सके.

रोग सुधार की जानकारी

आपको चाहिये कि समय समय पर अपने सुधार की जानकारी हमें देते रहे.

इसके लिये ईमेल या Telegram द्वारा एक नियत फॉर्मेट आपको भेजा जाता है.

जिसके द्वारा आप हमें अपने सुधार की जानकारी देते रहिये.

क्या IBS से उपजे अन्य रोगों की औषधियां भी उपलब्ध हैं

हमारे पास पेट विकारों से सम्बंधित अन्य कई रोगों की औषधियां उपलब्ध हैं.

इन औषधियों में बवासीर (Piles), लिवर रोग, अलसर, GERD, Hiatus hernia, आन्तरिक एसिडिटी, Proctitis और कोलाइटिस इत्यादि की औषधियां अलग से उपलब्ध करायी जाती हैं.

अन्य उत्पाद

IBS के अतिरिक्त भी कई औषधियां, टॉनिक और सप्लीमेंट्स भी उपलब्ध हैं जिनकी जानकारी आप शॉप सेक्शन में ले सकते हैं.

अन्य समाधान या प्रश्न

यदि उपरोक्त प्रश्नों के अतिरिक्त यदि आप कोई अन्य जानकारी या समाधान लेना चाहें तो 788 915 0990 पर Telegram App से संपर्क कर सकते हैं.

अतिशय धन्यवाद, मंगल कामनायें!!